Agneepath Scheme in Hindi – 2023

Agneepath Scheme in Hindi – 2023 :- दोस्तो आज मैं आप सभी को Agneepath Scheme in Hindi के बारे में विस्तार से जानेंगे आप मेरे साथ इस आर्टिकल अंत तक बने रहिए

Table of Contents

Table of Contents

Agneepath Scheme in Hindi – उम्र

agneepath scheme in hindi

अब केंद्र सरकार के पॉइंट समझो उनका तर्क क्या है वह समझिए पहले इसे सेवा में ज्यादा से ज्यादा युवाओं को देश की रक्षा करने का अवसर मिलेगा क्योंकि हर चार साल के बाद नए लोग आएंगे तो ज्यादा से ज्यादा लोगों को ही अवसर मिलेगा इससे भारतीय सेवा की जो औसत उम्र है

वह 32 वर्ष से घटकर 26 वर्ष हो जाएगी यानी आज से 50 वर्षों के बाद जब देश की आबादी तेजी से बुद्धि हो रही होगी तब भी हमारी सैन युवा रहेगी क्योंकि इस योजना के तहत एक समय अंतराल पर युवा सेवा में भर्ती होते रहेंगे

हर चार साल में नए युवा सेवा में आते रहेंगे और सुना को दुनिया भर में जो सबसे मजबूत सीन हैं वह युवा सीन हैं दूसरा जिन युवाओं को 4 साल के लिए सेवा में भर्ती किया जाएगा उनमें से 25 प्रतिशत युवाओं को सरकार फौज में रिटेन कर लेगी यानी यह युवा सेवा में ही अपनी नौकरी बरकरार रखेंगे सेवाएं देते रहेंगे

Agneepath Scheme in Hindi – 12 लख रुपए की जमा पूंजी उन्हें सेवा से बाहर निकलते समय मिलेगी

और जो 75% युवा सेवा से नौकरी करके बाहर आएंगे रिटायर होकर उनके पास सेवा में काम करने का अच्छा खासा अनुभव होगा और सेवा निधि के तौर पर लगभग 12 लख रुपए की जमा पूंजी उन्हें सेवा से बाहर निकलते समय मिलेगी यानी आप यह सोचिए कि हर चार में से जो एक सैनिक होगा वह सेवा में आगे तक काम करता रहेगा लेकिन वह चार में से एक वह सैनिक होगा जो सर्वश्रेष्ठ होगा Agneepath Scheme in Hindi.

जो अच्छा होगा इसलिए जो लोग यह कह रहे हैं कि 4 साल के बाद इन युवाओं का क्या होगा यह बेरोजगार हो जाएंगे उन्हें यह बात समझनी होगी कि इस योजना के तहत देश के युवा 25 साल की उम्र में आर्थिक और मानसिक रूप से स्थाई हो चुके होंगे मजबूत हो चुके होंगे

आज आप सोचिए कि 24 25 साल की उम्र में कौन सा युवा जीवन में सेटल हो जाता है लेकिन यहां यह युवा जाम जाएंगे तब तक मान लीजिए कोई युवा 21 साल की उम्र में सेवा में भर्ती होता है तो वह 25 साल की उम्र में वहां से रिटायर होगा और रिटायरमेंट के बाद उसे सरकार की तरफ से 11 लाख 71000 सेवा निधि पैकेज के तौर पर मिलेंगे

Agneepath Scheme in Hindi – अग्निवीर कौशल प्रमाण प्रमाण पत्र का नाम दिया गया है

इसके अलावा सेवा में 4 साल का करने काम करने का अनुभव शानदार अनुभव उसके पास होगा सरकार उसे सैनिक को एक प्रमाण पत्र अलग से देगी जिस अग्नि वीर कौशल प्रमाण प्रमाण पत्र का नाम दिया गया है और इन अग्नि वीरों को राज्य सरकारों की राज्यों की पुलिस Agneepath Scheme in Hindi

और पुलिस के सहयोगी बालों में नौकरी के लिए प्राथमिकता दी जाएगी कई राज्य सरकारों ने इसकी मंजूरी दे दिया तो बड़ी बात जो आपको आज समझनी है वह यह है कि चार साल के बाद जब आप आएंगे आपको लगभग 12 लख रुपए मिलेंगे

उसके बाद आपको एक प्रमाण पत्र मिलेगा और उसे प्रमाण पत्र के आधार पर जो पुलिस की भर्तियां होंगी स्टेट पुलिस की उन सब में आपको प्राथमिकता दी जाएगी यानी 25 साल की उम्र में उसे युवा के पास अपनी खुद की एक जमा पूंजी होगी अपना खुद का एक अनुभव होता अनुशासन उसके (Agneepath Scheme in Hindi ) जीवन में आ चुका होगा

Agneepath Scheme in Hindi-सरकार भी इन्हें अलग-अलग नौकरियों में प्राथमिकता देगी जैसे सेंट्रल आर्म्ड पुलिस फोर्सज में जो नौकरियां हैं

सबसे बड़ी बात वह स्किल होगा सोचिए आज 25 साल की उम्र में कौन अपने जीवन में इस तरह से सेटल हो पता है जो कि इस योजना के बाद यह अग्निवीर होंगे 2013 में एक सर्वे के मुताबिक भारत में दो प्रतिशत से भी काम युवा ऐसे हैं जो 25 साल की उम्र तक 12 लख रुपए की जमा पूंजी इकट्ठा कर पाते हैं सिर्फ दो परसेंट ऐसे ही हुआ है

लेकिन यह अग्नि वीर 25 वर्ष की उम्र में आत्मविश्वास से भरे होंगे और उनकी जेब भी भारी होगी इसके अलावा केंद्र सरकार भी इन्हें अलग-अलग नौकरियों में प्राथमिकता देगी जैसे सेंट्रल आर्म्ड पुलिस फोर्सज में जो नौकरियां हैं

उनमें इन अग्नि वीरों को प्राथमिकता दी जाएगी इसके अलावा असम राइफल्स की भर्ती में भी इन्हें प्राथमिकता मिलेगी सरकार इन अग्नि वीरों को जो कौशल प्रमाण पत्र देगी उसके आधार (Agneepath Scheme in Hindi ) पर इन्हें बैंकों से आसानी से लोन मिलेगा

जिससे अगर यह चाहे तो अपना बिजनेस भी शुरू कर सकते हैं और प्राइवेट सेक्टर में भी उनके लिए बहुत सारी नौकरियां होगी क्योंकि यह अग्नि वीर सेवा में काम करने की वजह से स्किल्ड होंगे और उनकी क्षमता पहले के मुकाबले आर्मी की ट्रेनिंग की वजह से कहीं ज्यादा बढ़ चुकी होगी

Agneepath Scheme in Hindi -सरकार सेवा में नौकरी करने के साथ-साथ एक स्पेशल कोर्स के तहत 12वीं कक्षा की पढ़ाई करने का मौका देगी

war 1447021 640

इसके अलावा सरकार ने कहा है कि जो अग्नि वीर दसवीं कक्षा के बाद सेवा में भर्ती हो जाएंगे उन्हें सरकार सेवा में नौकरी करने के साथ-साथ एक स्पेशल (Agneepath Scheme in Hindi ) कोर्स के तहत 12वीं कक्षा की पढ़ाई करने का मौका देगी और उन्हें स्किल प्रोग्राम से भी जोड़ा जाएगा तो अब आप सोचिए जो दसवीं पास छात्र होंगे

जब वह जाएंगे इस योजना के तहत अग्नि वीर बनकर तो वह काम भी करते रहेंगे और पढ़ाई भी करते रहेंगे ऐसी योजना किस मिल सकती है आप सोचिए कि आप पढ़ाई कर रहे हैं यानी आप आपको 12वीं का सर्टिफिकेट भी मिल रहा है आप काम भी कर रहे हैं

आपको तनख्वाह भी मिल रही है 4 साल के बाद 12 लख रुपए भी मिल रहे हैं और ट्रेनिंग भी मिल रही है और रिटायरमेंट के बाद आपका शानदार भविष्य भी है हमारे देश में बहुत सारे युवा ऐसे हैं जो 30 साल की उम्र तक भी नौकरी ढूंढ नहीं पाते इसलिए आप खुद सोच सकते हैं

Agneepath Scheme in Hindi – यह योजना कैसे युवाओं को देश सेवाओं के साथ-साथ आत्मनिर्भर भी बनाएगी

कि यह योजना कैसे युवाओं को देश सेवाओं के साथ-साथ आत्मनिर्भर भी बनाएगी यानी जिस उम्र में बाकी के जो युवा हैं वह नौकरी ढूंढना शुरू करते हैं तीसरा 25 साल की उम्र पेंशन की उम्र नहीं होती सोचिए इस देश के लिए ज्यादा जरूरी क्या है (Agneepath Scheme in Hindi )

सरकार 25 साल के युवाओं को 4 साल की नौकरी के बाद पेंशन दे या पेंशन का यह पैसा वह अपनी सेवा के आधुनिकरण और नए हथियारों की खरीद पर खर्च करेंवर्ष 2020 और 21 में भारत का रक्षा बजट चार लाख 85000 करोड रुपए था जिसमें से 54% हिस्सा सिर्फ सैलरी और पेंशन पर खर्च हुआ जिससे सरकार शकर भी सुना के आधुनिकीकरण पर ज्यादा जोर नहीं दे पाई

इसलिए यह योजना सेवा के आधुनिक की कारण को ध्यान में रखकर बनाई गई है जिसमें युवाओं का भी फायदा होगा हालांकि देश के जो युवा इस योजना का विरोध कर रहे हैं उनका क्या कहना है उनका यह कहना है कि सरकार ऐसा करके उनका जीवन बर्बाद कर रही है

इसलिए अब यह समझिए कि विरोध करने वाले युवाओं का क्या कहना है और उनकी मांग क्या है क्योंकि उनकी बात सुना भी जरूरी है आखिर है तो हमारे ही छात्र हमारे ही देश के युवा हैं और इन्हें सही रास्ते पर लाना हमारी ही जिम्मेदारी है अभी इस योजना का सबसे ज्यादा विरोध वह युवा कर रहे हैं

जिन्होंने पिछले दो वर्षों में सेवा की भर्ती की प्रक्रिया में हिस्सा लिया था सेवा में वर्ष 2019 के बाद से भर्ती प्रक्रिया तो निकल गई यानी भारतीय चल रही थी लेकिन इन प्रक्रियाओं को अलग-अलग कर्म से पूरा नहीं हुआ यानी भारती का भीम का हिस्सा तो बन गए

Agneepath Scheme in Hindi – समस्या यह है

बच्चे उन्होंने उसे क्लियर भी कर लिया लेकिन भारती नहीं हुई इससे यह हुआ कि जिन युवाओं का चयन सेवा में पुरानी भर्ती प्रक्रिया के तहत हो चुका था उनमें से बहुत सारे युवा अब सेवा में नौकरी करने के लिए योग्य नहीं रह गए हैं क्योंकि उनकी उम्र निकल चुकी है

और अब सिस्टम बदल जाएगा क्योंकि सरकार की तरफ से कहा गया है कि अब सेवा के तीनों अंगों में नए सिरे से भारती की प्रक्रिया शुरू होगी और पुरानी भारतीय निष्क्रिय मनी जाएंगे यानी अगर आपने पुरानी भर्ती के तहत अपना कोई परीक्षा कलियर की हुई है

फिजिकल क्लियर किया हुआ है तो अब वह निष्क्रिय हो चुका है अब आपको उसके आधार पर नौकरी नहीं मिलेगी और यही बात बहुत सारे युवाओं को परेशान कर रही है क्योंकि वह युवा वर्षों से सेवा में भर्ती की तैयारी कर रहे थे इस प्रक्रिया का हिस्सा बन चुके थे (Agneepath Scheme in Hindi ) .

अपने जीवन का एक अच्छा खासा समय उन्होंने इसमें लगा दिया था अग्निपथ योजना के तहत साढे 17 साल से लेकर 21 साल तक के युवा ही सेवा में नौकरी के लिए आवेदन दे सकते हैं साढे 17 साल से 21 साल तक के लेकिन अब समस्या यह है

कि जो युवा पिछले कुछ वर्षों से सेवा में भर्ती की तैयारी कर रहे थे उनकी उम्र 21 वर्ष से ज्यादा हो चुकी है जिसकी वजह से वह नौकरी की इस रस से अब बाहर हो जाएंगे उदाहरण के लिए बिहार के एक युवा ने 2019 में सेवा की भर्ती के लिए आवेदन दिया और तब उसकी उम्र 20 साल थी

इस दौरान उसने फिजिकल और मेडिकल टेस्ट पास कर लिया इसके बाद उसे सिर्फ रिटन एग्जाम देना था जिसे पास करने के बाद उसकी सेवा में स्थाई नौकरी लग जाती परमानेंट नौकरी और पेंशन भी मिलती लेकिन सरकार ने पुरानी भारतीयों को निष्क्रिय कर दिया और इस सब में उसकी उम्र अब 22 साल हो चुकी है Agneepath Scheme in Hindi –

यानी वह अब नई योजना के तहत सरकार में सेवा में नौकरी की दौड़ से बाहर हो चुका है और पुराने नतीजे का अब कोई महत्व नहीं है तो यह जो विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं उनमें वह युवा बड़ी संख्या में है जो अपनी उम्र की वजह से अब सेवा में भर्ती नहीं हो पाएंगे

क्योंकि उनकी उम्र अब 22 साल हो चुकी है अभी सेवा में नॉन कमीशन रंक पर जो भर्तियां होती हैं उसके तीन चरण होते हैं पहले चरण में उम्मीदवारों का फिजिकल और मेडिकल टेस्ट होता है अगर वह इस टेस्ट में पास हो जाते हैं तो उनके दस्तावेजों की जांच होती है दूसरे चरण में लिखित परीक्षा (Agneepath Scheme in Hindi ) होती है

जो लोग इसमें पास हो जाते हैं उन्हें सेवा में ट्रेनिंग के लिए बुलाया जाता है और इसी ट्रेनिंग के साथ सेवा में नौकरी की शुरुआत मानी जाती है फिलहाल सरकार ने इस प्रक्रिया में कोई बदलाव नहीं किया है

Agneepath Scheme in Hindi – 6 महीने उनकी ट्रेनिंग होगी

लेकिन नई योजना के तहत अग्नि वीर सेवा में जो चार साल अपनी सेवाएं देंगे उनमें 6 महीने उनकी ट्रेनिंग होगी और बहुत सारे युवा इसका भी विरोध कर रहे हैं इन युवाओं का कहना है कि उन्हें सीमा पर दुश्मन से लड़ना होगा इसलिए छह महीने की ट्रेनिंग (Agneepath Scheme in Hindi ) उनके लिए काफी नहीं है

और सरकार ऐसा करके उनके साथ खिलवाड़ कर रही है इसके अलावा बहुत सारी युवा पेंशन की सुविधा समाप्त करने का विरोध कर रहे हैं उन्हें पेंशन चाहिए आज हमने देश भर के युवाओं से इस मुद्दे पर बात की है और उनकी बातों को भी आज पूरे देश को ध्यान से सुनना चाहिए

हम बार-बार यह कह रहे हैं यह युवा किसी दूसरे देश के नहीं है तो हमारे ही देश के हमारे ही देश के छात्र हैं अगर गलत रास्ते पर जा रहे हैं तो हमारी जिम्मेदारी है कि हम इनके भ्रम उनकी गलतफहमियों को दूर करें अगर सही रास्ते पर भी जा रहे हैं तो हमारी जिम्मेदारी है

Agneepath Scheme in Hindi -पुरानी पीढ़ी की तरह परमानेंट नौकरी चाहिए

कि उनके मन में जो बातें हैं उन्हें हम ठीक से समझे और सरकार तक पहुंचाएं तो बात वही है जो दो बड़े मुद्दे हैं वह यह कि हमारे देश के युवाओं को आज भी पुरानी पीढ़ी की तरह परमानेंट नौकरी चाहिए और पेंशन वाली नौकरी चाहिए आज जो लोग यह कह रहे हैं

Agneepath Scheme in Hindi – अमेरिका में भी इसी तरह

की सेवा में चार साल नौकरी करने के बाद अग्नि वीरों का भविष्य अंधकार में चला जाएगा उन लोगों को हम अमेरिका का उदाहरण (Agneepath Scheme in Hindi ) देना चाहते हैं अमेरिका में भी इसी तरह एक निर्धारित समय अवधि के लिए युवाओं को वहां की सेवा में भर्ती किया जाता है

और वहां लगभग 80% सैनिक अपनी सेवा के आठवें वर्ष में ही रिटायर हो जाते हैं ध्यान से सुनिएगा आप अमेरिका में आठ साल के अंदर-अंदर 80 परसेंट सैनिक रिटायर हो जाते हैं यानी 20 साल में कोई युवा अमेरिका की सेवा में शामिल अगर हुआ है

तो वह 28 वर्ष की उम्र तक रिटायर हो जाता है और ऐसे सैनिकों को इसके बाद वहां पेंशन भी नहीं मिलती है तो फिर क्या अमेरिका के यह पूर्व सैनिक भी अपने जीवन में कुछ और काम नहीं कर पाते और हमेशा बेरोजगार बने रहते हैं

इसका जवाब है बिल्कुल नहीं वर्ष 2021 में अमेरिका के पूर्व सैनिकों की बेरोजगारी दर सिर्फ 4.4% थी और यह आंकड़ा वहां के राष्ट्रीय बेरोजगारी दर से भी काफी कम था इसे आप ऐसे समझिए कि अगर अमेरिका की सेवा में आठ साल की नौकरी करने के बाद 100 सैनिक रिटायर हुए

Agneepath Scheme in Hindi -आर्मी की जो ट्रेनिंग होती है वह बहुत प्रीमियम ट्रेनिंग होती है

तो उनमें से लगभग 96 सैनिकों को बाद में दोबारा नौकरी मिल गई यानी सामान्य लोगों की तुलना में पूर्व सैनिकों को नौकरी ज्यादा आसानी से मिल जाती है क्योंकि वह स्किल्ड होते हैं उनमें अनुशासन होता है उनमें लीडरशिप क्वालिटीज होती हैं

वह शारीरिक रूप से फिट होते हैं और वह कठिन से कठिन चुनौतियों का सामना करना जानते हैं आर्मी की जो ट्रेनिंग होती है वह बहुत प्रीमियम ट्रेनिंग होती है

ऐसी ट्रेनिंग आपको कहीं भी बाहर बड़े से बड़े कॉलेज में नहीं मिलेगी इसलिए यह बात गलत है कि भारतीय सेवा में 4 साल नौकरी करने के बाद हमारे अग्नि वीर बेरोजगार हो जाएंगे इसका मतलब यह है कि उन्हें अपनी काबिलियत पर भरोसा ही नहीं है हमारे अग्नि वीरों को अपनी काबिलियत पर भरोसा (Agneepath Scheme in Hindi ) रखना चाहिए

Agneepath Scheme in Hindi – हर नागरिक के लिए 3 साल तक वहां की सेवा में भर्ती होना अनिवार्य है

उन्हें इस बात का विश्वास होना चाहिए कि वह काबिल है उनके पास स्केल है और वह कहीं भी नौकरी कर सकते हैं चाहे प्राइवेट सेक्टर में या सरकार में इसके अलावा इजराइल में भी हर नागरिक के लिए 3 साल तक वहां की सेवा में भर्ती होना अनिवार्य है

वहां तो आप बच ही नहीं सकते इसे हर नागरिक को 3 साल सेवा में रहना है और वहां भी इन पूर्व सैनिकों को बहुत आसानी से नौकरियां मिलती है जब यह बाहर आते हैं तो आज इजरायल की टेक्नोलॉजी इंडस्ट्री दुनिया के बड़े-बड़े देशों को टक्कर दे रही है

और इस इंडस्ट्री के विकास में वहां के पूर्व सैनिकों का बहुत खास योगदान रहा है.

लड़कियों को आर्मी में जाने के लिए क्या करना पड़ता है -11

Mukhyamantri Sukha Rahat Yojana – मुख्यमंत्री सुख राहत योजना भारत के विभिन्न राज्यों में चलाई जा रही है – 2023

Leave a Reply